13304 Views 12 Sep, 2020 PDF

Surya Grahan 2020 Date, India Timings Live Updates: सोमवती अमावस्या के कारण और भी खास बन रहा है सूर्य ग्रहण, जानें क्या बरतें सावधानी

Surya Grahan 2020 Date, India Timings Live Updates: सोमवती अमावस्या के कारण और भी खास बन रहा है सूर्य ग्रहण, जानें क्या बरतें सावधानी

Surya Grahan December 2020 Effects On All Zodiac Sign - Surya Grahan December 2020 -  सूर्य ग्रहण का इन राशियों पर पड़ेगा सबसे ज्यादा प्रभाव |

Surya Grahan December 2020 Effects On All Zodiac Sign - Surya Grahan December 2020: सूर्य ग्रहण का इन राशियों पर पड़ेगा सबसे ज्यादा प्रभाव - साल का अंतिम सूर्य ग्रहण 14 दिसंबर को लग रहा है। यह खंडग्रास सूर्य ग्रहण होगा। भारत में यह सूर्यग्रहण नहीं दिखाई देगा । हालांकि ज्योतिष विद्वान आचार्य विभोरानंद शास्त्री जी ने इस दौरान एहतियात बरते जाने की सलाह दी है। ग्रहण की आरम्भ से लेकर अन्त तक सभी लोगों को सावधान रहने की आवश्यकता है। यह सूर्यग्रहण लगभग 5 घंटे तक चलेगा। सूर्यग्रहण अथवा चंद्रग्रहण पूर्णतया एक शुद्ध खगोलीय घटना है। जब कभ पृथ्वी व सूर्य के बीच चंद्रमा आ जाता है, तब इस स्थिति को सूर्य ग्रहण कहते हैं। यदि इसके विपरीत पृथ्वी और चंद्रमा के बीच सूर्य आ जाता है इसे चंद्र ग्रहण कहते हैं। Best Astrologer in Delhi NCR, Astrologer Acharya V Shastri is Top Famous Astrologer in Delhi NCR,

किसी भी ग्रहण का मनुष्य जाती पर नकारात्मक और सकारात्मक दोनों ही असर पड़ता है। इसी कारण भारतीय वैदिक ज्योतिष शास्त्र ग्रहण काल में विशेष सावधानी रखने की सलाह देता है। ग्रहण कल के समय यदि सूर्य या चंद्रमा आंशिक रूप से ढक जाता है तो इसे खंडग्रास ग्रहण कहते हैं। क्योंकि यह ग्रहण उस समय लगेगा जब भारत में सूर्या अस्त हो चुका होगा। इसलिए यह उन क्षेत्रों में दिखेगा जहां इस दौरान सूर्यो उदय रहेगा। ज्योतिषों के अनुसार यह वर्ष 2020 का अन्तिम सूर्य ग्रहण शाम 7 बजकर 3 मिनट से शुरू होगा और रात 12 बजकर 23 मिनट तक रहेगा। ग्रहण की सम्पूर्ण अवधि करीब 5 घंटे की रहेगी। साल का यह आखरी सूर्य ग्रहण रात्रि में लग रहा है। ग्रहण का असर प्रशांत महासागर, हिंद महासागर, दक्षिणी अफ्रीका, दक्षिणी अमेरिका, अटलांटिक और अंटार्कटिका में पड़ेगा। contact for consultant with Genuine Astrologer with expert of future predictions for his clientele.

सूर्यग्रहण के समय 5 ग्रह होंगे साथ

संयोगवश 14 दिसंबर को पड़ने वाला सूर्यग्रहण वृश्चिक राशि में होने जा रहा है यहां सूर्य के साथ पांच गृह चंद्रमा, बुध, शुक्र, सूर्य और केतु भी मौजूद रहेंगे यानि वृश्चिक राशि में 5 ग्रहों की मौजूदगी में 14 दिसंबर को वृश्चिक राशि में सूर्यग्रहण लगेगा। ऐसे में इस सूर्यग्रहण के बाद देश की राजधानी दिल्ली में बड़े घटनाक्रम देखने को मिल सकते हैं। यह भी एक संयोग है कि वर्तमान प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की जन्म राशि और लग्न भी वृश्चिक ही है जो कि सूर्य ग्रहण के समय पांच ग्रहों के योग से प्रभावित होगा।

राजनेताओं के लिए शुभ नहीं 14 दिसंबर का सूर्यग्रहण – क्योकि ग्रहण की छाया भारत में दृश्य नहीं है तो इसका कोई धार्मिक महत्व नहीं है लेकिन वृश्चिक राशि में सूर्य के पीड़ित होने साथ सूर्य की संक्रांति भी ग्रहण के कुछ समय बाद होने जा रहा है। ऐसे में यह ग्रहण बड़े राजनेताओं के लिए शुभ नहीं है।

देश के दो राज्य सरकारों पैर गिर सकती सूर्य ग्रहण की गाज - यदि देश के सियासी दलो की बात की जय तो देश में दो सरकार गिरने के पूरे पूरे योग बन रहे है। इस ग्रहण के व अन्य ग्रहों के परिवर्तन के कारण मार्च 2021 तक देश की दो प्रमुख राज्य सरकारो के गिरने या परिवर्तन  के ज्योतिषय योग बन रहे है।

सूर्यग्रहण का प्रभाव, इनका बढ़ेगा मुनाफा – पराशर ऋषि के होरा शास्त्र के अनुसार वृश्चिक राशि में लगने वाला ग्रहण विष और केमिकल यानि दवाओं और रसायन  आदि का कार्य करने वालों को अधिक प्रभावित करता है। वृश्चिक राशि को रसायनों, केमिकल और दवाइ आदि रसायनों की राशि माना जाता है। वृश्चिक राशि में केमिकल और दवाओं के कारक ग्रह चंद्रमा और बुध के योग के चलते दवा और केमिकल बनाने वाली सभी उध्योगो लाभ बढ़ेगा।

सूर्यग्रहण का राजनीति और अर्थव्यवस्था पर असर - राजनीति और सामाजिक नजर से देखें तो सत्ता-पक्ष और विपक्ष में मिथ्या आरोप प्रत्यारोप की राजनीति अगले 90 दिनों तक अपने चरम सीमा पर होगी। ग्रहण के समय गुरु की नज़दीकी अंशों में शनि के साथ मकर राशि में बन रहे योग के करण  बैंकिंग संगठनों, कामगारों और मजदूरों के भी विरोध-हड़ताल के साफ संकेत दिख रहे है। असे ही अन्य ओर भो अन्य कारणों के चलते अगले 3 महीने का समय बहुत ही उथल-पुथल भरा होगा।

कोरोना पैर कैसा होगा असर इस सूर्य ग्रहण का – इस सूर्य ग्रहण का कोरोना बीमारी से निजात पाने में सकारात्मक असर देखने को मिलेगा, कोरोना रिकवरी रेट में चमत्कारिक रूप से वृद्धि देखने को मिलेगी। दिन प्रतिदिन कोरोना के केसों मैं लगातार कमी आती रहेगी। अन्य वाले 90 दिनों कोरोना को बहुत हद तक नियंत्रित कर लिया जायेगा।

ग्रहण के बाद अमेरिका में उथल-पुथल - यह सूर्य ग्रहण दक्षिण अमेरिका के देशों चिली, अर्जेंटीना, पेरू आदि में दिखाई देगा। यहां सरकारो के विरोध के चलते प्रदर्शन आदि अगले 3 महीनों में अधिक हिंसक रूप ले सकते  है। चिली, पनामा, कोलोम्बिया आदि दक्षिण अमेरिकी देशों में इस वर्ष जून से अक्टूबर के बीच आर्थिक असमानता और भ्रष्टाचार के विरोध में बहुत से विरोध प्रदर्शन हुए थे जो दोबारा इस सूर्यग्रहण के चलते शुरू होने की संभावना बन रही है। जनता के आंदलनो के कारण कई देशों में तो सरकारे भी गिर सकती हैं। सुपर पॉवर अमेरिका भी इस तरह के आंदोलनों में घिर सकता है जिससे नव-निर्वाचित राष्ट्रपति जो बिडेन जी की परेशानी के कारण भी साफ साफ नजर आ रहे है। ग्रहण के 30 दिनों के अन्दर ही दक्षिण अमेरिका के पेरू और चिली में भूकंपो की सम्भावन भी बन रही है।

इसलिए ग्रहण होगा अधिक महत्वपूर्ण - मार्गशर्ष माह की सोमवती अमावस्या होने के वजह से इस ग्रहण का महत्व औऱ भी बढ़ गया है। यह पूर्ण सूर्य ग्रहण वृश्चिक राशि के ज्येष्ठा नक्षत्र में लगेगा। Contact for marriage, career, love, health and other issues,

ग्रहण के बाद दान-पुण्य करना चाहिए - सूतक काल लगने से पहले ही खाने-पीने की वस्तुओं में तुलसी के पत्ते डालकर रख देने चाहिए। यदि घर में मंदिर है तो सूतक लगते ही उसे ढक देना चाहिए। मान्यता है कि ग्रहण के बाद दान-पुण्य करना चाहिए।

ग्रहण काल के बाद स्नान जरूर करें -  ग्रहण काल के बाद पवित्र नदियों मे, सरोवरों में स्नान जरूर करें। नदी तक न पहुंच सकें तो घर में ही पानी में गंगाजल डालकर स्नान करें। इससे ग्रहण की अशुद्धि से मुक्ति मिलती है।

ग्रहण काल में करें गुरु मंत्र का जाप - ग्रहण काल में गुरु मंत्र का जाप, किसी मंत्र की सिद्धी, रामायण, सुंदरकांड का पाठ, तंत्र सिद्धी आदि कर सकते हैं।

भगवान की मूर्तियां नहीं छूना चाहिए - ग्रहण काल में भगवान की मूर्तियों को न तो छूना चाहिए और न ही पूजा पाठ करना चाहिए। ग्रहण का सूतक काल लगते ही कई मंदिर के कपाट भी बंद कर दिए जाते हैं।

सूर्य ग्रहण के दौरान पेड़ों से पत्ते न तोड़ें - ग्रहण के समय पत्ते, लकड़ी और फूल नहीं तोड़ना चाहिए। ऐसा करना अशुभ माना गया है। साथ ही ग्रहण काल में पेड़ों को भी नहीं स्पर्श करन चाहिए।

नंगी आंखों से क्यों नहीं देखते ग्रहण - नंगी आंखों से सूर्य ग्रहण देखने को इसलिए मना किया जाता है, क्योंकि ऐसी मान्यता है कि नंगी आंखों से ग्रहण देखने से आंखों में विकार आ सकता है।

गर्भवती महिलाओं का विशेष ध्यान – सूर्य ग्रहण की समयावधि मेंगर्भवती महिलाओं को विशेष ध्यान रखना चाहिए। कहा जाता है कि ग्रहण का सबसे ज्यादा असर गर्भ में पल रहे बच्चे पर पड़ता है। इसलिए इस दौरान गर्भवती महिलाओं को कुछ विशेष कार्य करने के लिए मना किया जाता है ताकि गर्भ में पल रहे बच्चे को नकारात्मक प्रभावों से बचाया जा सके।

सूर्य से ही तय होती है दशा व दिशा, जानें किस राशि पर क्‍या पड़ेगा ग्रहण का प्रभाव, आचार्य विभोरानन्द शास्त्री जी के अनुसार इस सूर्य ग्रहण कासभी बारह राशियों पर इसका क्या प्रभाव पड़ेगा, व सभी बारह राशियों वालो को इसके क्या क्या उपाय करने चाहिए, वे इस परकार से है।

सभी राशियों पर सूर्य ग्रहण के पड़ने वाले प्रभाव और उनके उपाय

मेष राशि: किसी मांगलिक कार्य में शामिल होने का अवसर प्राप्त हो सकता है। सुख के साधन जुटेंगे। प्रसन्नता रहेगी। आत्मसम्मान बना रहेगा। कोई बड़ा काम करने का मन बनेगा। भूले-बिसरे साथियों से मुलाकात होगी। व्यय होगा। उत्साहवर्धक सूचना प्राप्त होगी। लाभार्जन होगा। कारोबार में जो भी निर्णय लें, सोच समझ कर लें। सूर्य ग्रहण के प्रभाव से आपको सफलता पाने के लिए अधिक प्रयास करने होंगे। कार्यक्षेत्र के लिए यह अवधि आपके लिए अनुकूल होगी। सावधानी से कार्य करना होगा।

मेष राशिवाले क्या उपाय करे : ग्रहण के इस समय में रामायण का पाठन लाभकारी रहेगा|

वृषभ राशि: यात्रा लाभ देने वाली रहेगी। बेरोजगारी दूर करने के कोशिश सफल होगी। गिफ्ट की प्राप्ति होगी। जोखिम बहरे कार्य को तने में ही समझदारी है। अपने स्वास्थ्य को नजरअंदाज न करें। समय अनुकूल है। आय में वृद्धि होती हुई नजर आ रही है। मन मे उत्साह व प्रसन्नता रहेगी। लंबित पडे कार्य बनेंगे। पारिवारिक जीवन में तनावपूर्ण स्थिति रह सकती है। इस अवधि में धन निवेश करने से बचें।

वृषभ राशिवाले क्या उपाय करे : ग्रहण के इस समय लाल वस्त्र या मसूर की दाल का दान करने से परिवार जानो के बिच प्रेम भाव बढ़ेगा|

मिथुन राशि: चोट व दुर्घटना आदि से घायल होने के योग हैं। किसी भी कार्य को करते समय लापरवाही न बरते। स्वास्थ्य में कमजोरी रहेगी व वाणी पर भी नियंत्रण रखना होगा। आपके आत्मसम्मान को आघात पहुंच सकता है। व्यवसाय में हानी की संभावना बन रही है। बिना जांचे परखे निवेश न करें। वैवाहिक जीवन में परिस्थितियां विपरीत साबित होंगी। व्यवसाय में साझेदारी से हानी हो सकता है। ऐसे में धेर्य से काम लें।

मिथुन राशिवाले क्या उपाय करे : ग्रहण के इस समय यदि किन्नरों कीच भी दान किया जाये तो जीवन की परेशानी बहुत हद तक कम हो जाएँगी।

कर्क राशि: नया व्यवसाय शुरू करना है तो थोड़ा रुकें। अगले 30 दिनों तक ग्रहो की दशा ठीक नहीं है। जल्दीबाजी करना भारी पड़ सकता है। इस समय  में आपको धैर्य से काम लेने की जरुरत है। निर्णय लेने में परेशानिया आएंगी। लापरवाही न बरतें। आपकी इनकम पर भी असर पड़ सकता है। व्यवसाय में वृद्धि के योग हैं। दुष्टजन तथा क्रिमनल व्यक्तियों से दूर रहें। खोया हुआ धन फिर से प्राप्त हो सकता है। व्यापारिक यात्रा मनोनुकूल रहेगी। अपनी कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। समय अनुकूल है लाभ उठाये।

कर्क राशिवाले क्या उपाय करे : ग्रहण के इस समय शिव के मंत्रो का जप किया जाये तो धन संभंधि कार्यो मे लाभ मिलेगा।

सिंह राशि: ग्रहण के अगले 30 दिनों तक धन संबंधी निर्णय सोच समझ कर लें। सभी योजना जो सोच समझकर बने गयी है वो सभी फलीभूत होगी। मित्रों, रेस्तादारो से सहयोग लाने व देने अवसर प्राप्त होगा। घर-बाहर सम्मान बढ़ेगा। नए व्यापारिक अग्रीमेंट हो सकते हैं। दूर दराज से काम मिल सकता है। आर्थिक धन संबंधी नीति में सुधार आयेगा। समय की शुभता का लाभ उठाये । मन में प्रसन्नता बनी रहेगी। इस सूर्य ग्रहण के दौरान किसी तरह की कोताही न बरतें। धन सम्बन्धी स्थिरता के संबंध में कठोर निर्णय लेने बच सके तो अच रहेगा।

सिंह राशिवाले क्या उपाय करे : ग्रहण के इस समय यदि सूर्य के मंत्रो के जप किया जाये तो मानसिक शांति मिलेगी धन संभंधि सभी मामले हल होंगे।

कन्या राशि: ग्रहण का घरेलु जीवन पर प्रतिकूल असर दिख सकता है। ईमानदारी से काम लें। घरेलु जीवन पर ग्रहण का असर पड़ सकता है। व्यवसाय व कार्य में कठिन परिश्रम  करना पड़ सकता है। कठिन मेहनत करने से बिल्कुल भी न घबराएं। सरकार से सहयोग प्राप्त होगा। सभी लंबित कार्यो में गति आएगी। व्यापार - कारोबार  लाभ मनोनुकूल ही रहेगा। स्वास्थ्य का पूरा पूरा ध्यान रखें। तंत्र-मंत्र ज्योतिष में रुचि बढ़ेगी। सत्संग से लाभ मिलेगा। आमदनी में वृद्धि रहेगी । अपने स्वास्थ्य का पूरा पूरा ध्यान रखें। क्रिमनल लोगो की संगति से परेशानी बढ़ेगी। किसी तीर्थ पर जाने की योजना किर्यान्वित होगी।

कन्या राशिवाले क्या उपाय करे : ग्रहण के इस समय गरीब को लाल वस्त्र का दान करना शुभ रहेगा |

तुला राशि: धन संबंधी मामले रोके नहीं बल्कि सावधानी बरते। थोड़ी सी भी लापरवाही भी भारी पड़ सकती है। इस सूर्य ग्रहण के प्रभाव से आपको किसी परेशानी का सामना हो सकता है। किसी भी तरह के वाद-विवाद में न पड़ें। अपने कीमती सामान को संभालकर रखें। परिवारिक जीवन मे तनाव बढ़ सकता है। यदि संभव हो तो यात्रा को टालें। चोट और दुर्घटना आदि से नुकसान की समभावना बन रही है। जोखिम व खतरे के कामो को टाल दे। हड़बड़ी न करें। कारोबार ठीक चलेगा। आय लगातार बनी रहेगी।

तुला राशिवाले क्या उपाय करे : ग्रहण के इस समय काले रंग की गाय की सेवा करें। पानी में दही डाल कर स्नान करें तो जीवन के तनाव में कमी आयेगीओर साथ पारिवारिक सुखो की प्राप्ति होगी ।

वृश्चिक राशि: आय कम और खर्च में बढ़ते रहेंगे। आणखी से संबंधीत कोई परेशानी हो सकती है। परिवारजनों  के बीच ग़लतफ़हमी हो सकती है। खर्चों में वृद्धि होगी। किसी के साथ धोखा या बुरा बर्ताव न करें। कारोबार - व्यवसाय ठीक थक रहेगा। शेयर मार्केट और म्युचुअल फंड से आंशिक लाभ मिलते रहेंगे। जीवन साथी से सहयोग प्राप्त होगा। किसी भी कार्य में हड़बड़ी न करें। भाग्य का साथ भी लगातार मिलता रहेगा। अपने स्वास्थ्य का पूरा पूरा ध्यान रखें। आपकी व्यस्तता बदती जाएगी। सभी गुप्त शत्रु हर जाएंगे। आपकी नौकरी या कार्यछेत्र में सहकर्मी सहयोग करंगे

वृश्चिक राशिवाले क्या उपाय करे : ग्रहण के इस समय शहद, सौंफ और खांड आदि का दान करें तो चारो तरफआपके ही नाम का डंका बजेगा।

धनु राशि: इस सूर्य ग्रहण का आपकी धनु राशि पर सकारात्मक असर पड़ेगा। इनकम अच्छी रहने वाली है। आपका स्वास्थ्य भी ठीक-थक ही रहेगा। धन की थोरी कमी महसूस हो सकती हैं। इस समय धन संभंधि  लेनदेन में लापरवाह न बरतें। नोकरी मिलने के योग बन रहे है। कोई महत्वपूर्ण वस्तु खो सकती है। संपत्ति के बडी डील कोई बड़ा फायदा दे सकती हैं। उन्नति के रास्ते खुलते जायंगे। व्यवसाय में वृद्धि होगी। व्यर्थ की बातों पर ध्यान न दें। उत्साह में लगातार वृद्धि होती रहेगी

धनु राशिवाले क्या उपाय करे : ग्रहण के इस समय पत्नी का अपमान न करें, उनका आदर करें। शराब आदि व्यसनों से दूर रहें।

मकर राशि: मानसिक और शारीरिक परेशानी का सामना हो सकता है। थोडा थका हुआ महसूस करेंगे। इससे बहार निकालने के लिए सूर्य के तांत्रिक मंत्र का जाप करें। आपके व्यर्थ के खर्चों में अचानक से वृद्धि हो सकती है। स्वास्थ्य को लेकर तनाव बना रह सकता है। मानसिक शांति न मिलने की सम्भावन बन रही है। कारोबार ठीक-थक चलता रहेगा। धन से लाभ के योग बनते रहेनाग्य। परिवारिक सदस्यों के साथ समय सुखमय व्यतीत होगा। पाठन पठन व लेखक इत्यादि कार्यो में सफलता मिलेगी। किसी मनोरंजन आदि का आनंद प्राप्त होगा। भिजन में स्वादिष्ट व्यंजनों का सुख मिलेगा। आर्थिक निवेश भी शुभ रहने की सम्भावन बन रही हैं।

मकर राशिवाले क्या उपाय करे : ग्रहण के इस समय गाय व अपनी माता की सेवा करने पर शुभ सूचना प्राप्त होगी।

कुंभ राशि: खर्च में बढोतरी हो सकती है। ऐसे में इनकम और खर्च में तालमेल बना कर चलना थोडा मुश्किल रह सकता है। आमदनी में अचानक से कमी हो सकती है। इनकम और खर्च में आपको संतुलन बनाने की आवश्यकता रहेगी। खतरे व जोखम के कामो को टालने का प्रयास करे। आपकी सेहत लगातार कमजोर रह सकता है। भ्रम की स्थिति की स्थिति बन सकती है। चिंता और तनाव बड सकते है। दूर दराज से कोई दुःख की खबर मिल सकती है, धैर्य रखें। किसी अपने ही परचित से बिना किसी बात के  विवाद हो सकता है। भागदौड़ अधिक रहने की समभावन बन रही है।

कुंभ राशिवाले क्या उपाय करे : ग्रहण के इस समय सफेद रंग की गाय की सेवा करे या घांस खिलायें।

मीन राशि: सेहत से सम्बंधित कुछ पुरानी समस्याएं फिर खडी हो सकती हैं। अपने भोजन पर ध्यान रखने की आवश्यकता है। कारोबार में परेशानी महसूस कर सकते हैं। नौकरी से सम्बंधित किसी समस्या का सामना करना पड़ सकता है। आर्धिक निवेश तो शुभ रहेगा। लम्बे समय से रुके हुए कार्य बन जाएंगे। मन में उत्साह व प्रसन्नता रहेगी। आप नौकरी या कारोबार में कोई नया काम करेंगे। आपके उच्च अधिकारी आपसे प्रसन्न रहेंगे। आपको समाज में मान-सम्मान मिल सकता है। व्यापर में भी वृद्धि के योग बन  रहे हैं। भाग्य का पूरा पूरा साथ मिलेता रहेगा। किसी शुभ कर्मो में शामिल होने का अवसर प्राप्त होगा । सुख के साधन जुडते रहेंगे। मन में अत्यधिक प्रसन्नता बनी रहेगी।

मीन राशिवाले क्या उपाय करे : ग्रहण के इस समय ॐ नम: शिवाय का कम से कम 108 बार जप करें सेहत में सुधर आयेगा|

India's Famous Astrologers, Tarot Readers, Numerologists on a Single Platform. Call Us Now.

Call Certified Astrologers instantly on Dial199 - India's #1 Talk to Astrologer Platform. 

Expert Live Astrologers. 100% Genuine Results.